Entertainment

फिल्म रिव्यूः ‘संजू’ से रणबीर ने जीता सबका दिल

नई दिल्‍ली: संजय दत्त की बायोपिक यानि फिल्‍म ‘संजू’ आखिरकार आज पर्दे पर रिलिज़ हो चुकी है. इस फिल्‍म में रणबीर कपूर ने संजय दत्त का किरदार बखूबी निभाया है. फिल्‍म के टीजर से लेकर ट्रेलर तक, संजय दत्त के हर लुक में रणबीर कपूर कमाल के लग रहे हैं, साथ ही उन्होंने अपने आप को किरदार में इस कदर ढाल लिया है कि दर्शकों को वह संजय दत्त ही लगेंगे. ट्रेलर के बाद से ही इस फिल्‍म को लेकर काफी एक्‍साइटमेंट पैदा हो गयी थी कि क्‍या यह फिल्‍म रणबीर कपूर के करियर में चार चांद लगा देगी? आपको बता दें कि इस फिल्‍म के ज़रीए रणबीर कपूर ने दिल जीत लिया है. अपनी कंवेंसिंग एक्टिंग से लेकर अपने जबरदस्‍त डायलॉग डिलीवरी तक वह हर सीन में छा गए हैं. राज कुमार हिरानी बॉलीवुड के ऐसे निर्देशक हैं, जिन्‍होंने पिछले कुछ सालों में जबरदस्‍त ब्‍लॉकबस्‍टर फिल्‍में पर्दे पर उतारी हैं. राज कुमार हिरानी की इस फिल्‍म को भी ब्‍लॉक बस्‍टर होने की उम्‍मीद जताई जा रही है.

निर्देशक: राज कुमार हिरानी
कास्‍ट: रणबीर कपूर, परेश रावल, सोनम कपूर, विक्‍की कौशल, मनीषा कोइराला, अनुष्‍का शर्मा, दीया मिर्ज़ा
स्‍टार: 4 स्‍टार

कहानी
इस फिल्‍म की कहानी संजय दत्त की जिंदगी पर आधारित है और उनके स्‍टार बनने से लेकर उनके जेल जाने और जिंदगी के लगभग सभी उतार-चढ़ाव को इस फिल्‍म में दिखाने की कोशिश की गई है. बायोपिक फिल्‍मों की सबसे मजबूत पकड़ होती है उसकी कहानी, लेकिन संजय दत्त एक पब्लिक फिगर हैं और उनकी जिंदगी के लगभग हर पहलू पर मीडिया में सब कुछ आता रहा है. ऐसे में इस फिल्‍म के लिए सबसे बड़ा चैलेंज यही है कि आखिर दर्शकों को काफी कुछ पता होते हुए भी कैसे संजू बाबा की जिंदगी के राज पर्दे पर ले जाएं और ढाई घंटे की इस फिल्‍म में दर्शकों को हंसाया, रुलाया, गुदगुदाया जाए.

लेकिन इस फिल्‍म की सबसे अच्‍छी बात यह है कि वह फिल्‍म में सिर्फ ‘हीरो’ नहीं है. यानी इस फिल्‍म में संजय दत्त की जिंदगी के अच्‍छे-बुरे हर पहलू को दिखाया गया है. संजू इस फिल्‍म के स्‍टार हैं लेकिन वह अपनी इस कहानी में हर जगह एक आदर्श पुरुष नहीं है. राजकुमार हिरानी ने इस फिल्‍म में संजय की ड्रग्स से जद्दोजहद, मुंबई बम विस्फोट, आर्म्स एक्ट में नाम आने की वजह से जो-जो झेला उसको बखूबी दिखाने की कोशिश की है. यह फिल्‍म संजू के सही और गलत हर पक्ष को साफ तौर पर दिखाती है. इसके अलावा दर्शकों को फिल्‍म में पुराने दौर के कुछ गाने भी सुनने को मिलेंगे जो व्यक्ति को पुराने दौर में ले जाएंगे. फिल्‍म में काफी हल्‍के पल हैं जिनपर आप दिल खोलकर हंस सकते हैं.

यानि ज़िंदगी की उतार-चढ़ाव, हंसी मज़ाक, मुसीबत हर चीज़ से निर्मित यह फिल्म दर्शकों का दिल जीतने वाली है.

अवश्य पढ़ेंः ‘विरुष्का’ और ‘सैफीना’ के बाद बॉलीवुड में छाया इस जोङी का नाम

आपकी राय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *