Delhi Events

भविष्य के लिए अभी से कसनी होगी कमर….!

नई दिल्ली: टैक्सपेयर के हितों के लिए काम करने वाली अग्रणी संस्था टैक्सपेयर एसोसिएशन ऑफ़ भारत ने मौलिक अधिकार स्वस्थ खाना, शुद्ध जल और साफ़ हवा पर सेमिनार का आयोजन किया. जिसमे सुप्रीम कोर्ट में इंडिया की अडिशनल सॉलिसिटर जेनेरल डॉ पिंकी आनंद, सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील कोलिन गोंसाल्वेस, आई० सी० एस० एस० आर० के सेक्रेटरी डॉ वीरेंदर कुमार मल्होत्रा, दिल्ली विश्वविद्यालय की लॉ फैकल्टी प्रमुख डॉ० उषा टंडन, वरिष्ठ पत्रकार अभिज्ञान प्रकाश, टैक्सपेयर एसोसिएशन ऑफ़ भारत के अध्यक्ष मनु गौड़ आदि लोग मौजूद रहे.

यह भी देखें : VIDEO : सीएम केजरीवाल का 3 घंटे वाला सीसीटीवी धरना…

2050 में जनसंख्या के लिहाज से सबसे बड़ा देश होगा भारत

टैक्सपेयर एसोसिएशन ऑफ़ भारत के इस आयोजन का उद्देश्य देश में संविधान द्वारा दिए गये मौलिक अधिकार स्वच्छ खाना, शुद्ध जल और साफ़ हवा पर वर्तमान के परिदृश्य और भविष्य में होने वाली समस्याओं पर मत दिए गए. जिसमें दिल्ली विश्वविद्यालय की लॉ फैकल्टी प्रमुख डॉ० उषा टंडन ने कहा की भारत 2017 में ग्लोबल हंगर इंडेक्स में सभी पडोसी देशो से भी (चाइना, नेपाल, श्रीलंका, बांग्लादेश ) से भी पीछे था.

CBSE Class 12th Result 2018 की Date हुई जारी, Cbse.Nic.In पर इस दिन और वक्‍त ऐसे करें चेक

जो की हमारे लिए भविष्य में चिंता का विषय है. भारत 2050 तक जनसंख्या की दृष्टि से बहुत बड़ा देश हो जाएगा जिसको ध्यान में रखते हुए हमें वर्तमान से ही पालिसी बनानी पड़ेगी. सुप्रीम कोर्ट के जाने माने वकील कॉलिन गोंसाल्विस ने कहा की हमारे द्वारा खाया जा रहा खाना कीटनाशकों के समिश्रण के फल स्वरुप कई बीमारियों का कारण बन रहा है. सरकार को इस समस्या पर ध्यान देने की जरूरत है. आई० सी० एस० एस० आर० के सेक्रेटरी डॉ वीरेंदर कुमार मल्होत्रा ने कहा की हमारी बढ़ती जनसंख्या को यदि कौशल परक बना दिया जाये तो बहुत सी समस्याए खत्म हो सकती हैं.

Raazi Movie Review : दिल्‍लीवालों को क्‍यों देखनी चाहिए आलिया भट्ट की ‘राजी’?

डॉ पिंकी आनंद (अडिशनल सॉलिसिटर जनरल ऑफ़ इंडिया ) के अनुसार मौलिक अधिकारों के लिए सरकार के साथ समाज को भी परिवर्तन करना चाहिए. उन्होंने कहा की सरकार काफी हद तक काम कर रही है. विकासशील देश में परिवर्तन के साथ साथ समस्याओं का भी निराकरण किया जाता है. वरिष्ठ पत्रकार अभिज्ञान प्रकाश ने कहा की सरकार को टैक्स पेयर्स के पैसों का विवरण भी देना चाहिए. टैक्सपेयर एसोसिएशन ऑफ़ भारत के अध्यक्ष मनु गौड़ ने कहा की इस आयोजन का मुख्य बिंदु टैक्स पेयर्स की अभिव्यक्ति और अधिकारों के लिए इस तरह के आयोजन करना है.

आपकी राय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *