AAP Delhi TIlak Nagar MLA jarnail singh
Delhi Top News News

AAP विधायक जरनैल सिंह ने बताया कैसे दिल्‍ली में पार्किंग चार्ज के नाम पर होती है ‘खुली लूट’

नई दिल्‍ली : आम आदमी पार्टी ने दिल्‍ली में प्राइवेट मॉल्‍स और हॉस्पिटलों में अवैध रूप से वसूले जा रहे पार्किंग चार्ज पर सवाल उठाए हैं. तिलक नगर से आम आदमी पार्टी के विधायक जरनैल सिंह ने शुक्रवार को इस मुद्दे को जोर-शोर से उठाया, साथ ही इस पूरे मसले पर दिल्‍ली नगर निगम (एमसीडी) और उसके अधिकारियों की भूमिका पर भी सवाल खड़े किए.

आप विधायक ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में उजागर किए तथ्‍य

विधायक जरनैल सिंह ने एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा कि, “MCD ने 2015-16 में एक नोटिस लगाया था, जिसमें साफ़तौर से बोला गया कि दिल्ली के कोई भी प्राइवेट मॉल, प्राइवेट हॉस्पिटल का मालिक पार्किंग चार्ज लेता है तो उस पर हम सख़्त से सख़्त कार्रवाई करेंगे.. अफसोस की बात है कि ये नोटिस एक कागज का टुकड़ा बनकर रह गया है”.

 

उन्‍होंने आगे कहा कि दिल्ली के सैकड़ों प्राइवेट मॉल्स में रोज लाखों गाड़ियां पार्क होती हैं, जिनसे करोड़ों रुपए का रेवेन्यू आता है. यह रेवेन्यू ना सिर्फ मॉल के मालिकों की जेब में जाता है, बल्कि MCD के भ्रष्ट अधिकारियों की जेब में भी जाता है.”

 

सिंह ने कहा कि “यह मामला संज्ञान में आते ही हमने पश्चिमी दिल्ली के पैसिफिक मॉल का मामला कमिश्नर को दिखाया कि पार्किंग चार्ज लेना तो बनता ही नहीं. साथ ही उन्हें हाईकोर्ट के ऑर्डर दिखाए. हैरानी की बात है कि 2 दिन के अंदर ही एक पत्र आता है कि पैसिफिक मॉल से पार्किंग चार्ज फ्री कर दिए गए हैं.”

 

विधायक ने कहा कि “दिल्ली हाईकोर्ट के एक ऑर्डर में कहा गया है कि दिल्ली के किसी भी प्राइवेट मॉल्स के जो मालिक हैं वह पार्किंग चार्ज नहीं ले सकते, क्योंकि उनको FAR में कमर्शियल घोषित नहीं किया गया”.

 

दरअसल, तिलक नगर से आम आदमी पार्टी के विधायक जरनैल सिंह ने साउथ एमसीडी के कमिश्नर और डीसी को चिट्ठी लिखकर शिकायत की थी कि अदालत के आदेश को ताक पर रखकर वेस्ट दिल्ली के कई मॉल्स में लोगों से पार्किंग चार्ज लिया जा रहा है. उन्होंने दिल्‍ली नगर निगम के अधिकारियों से कहा था कि वे तुरंत इसके खिलाफ तुरंत एक्शन लें. स्थानीय लोगों ने इस बाबत विधायक से शिकायत की थी, जिस पर संज्ञान लेते हुए जरनैल ने शनिवार को एमसीडी कमिश्नर को चिट्ठी लिखी.

आपकी राय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *