Lok Sabha Elections 2019 vegetarians people
Delhi Top News News

लोकसभा चुनाव 2019: अगर आप ‘वेजिटेरियन’ (शाकाहारी) हैं, तो ये पार्टी देगी टिकट…

नई दिल्ली : पिरामिड पार्टी ऑफ इंडिया ने बुधवार को हिंदी बेल्ट राज्यों में आगामी लोकसभा चुनाव 2019 व विधानसभा चुनाव लड़ने की घोषणा की. इसके साथ ही पार्टी ने आगामी चुनावों में शाकाहारी व्यक्तियों को उम्मीदवार बनाने की घोषणा की. पार्टी के संस्थापक ब्रह्मर्षि पितामह पत्री ने बताया कि हमारी पार्टी ने दक्षिण भारत में हर चुनाव में अपने उम्मीदवार उतारे हैं, अब हम उत्तरभारत में अपनी पार्टी को मजबूती से लॉन्च करना चाहते हैं.

उन्होंने कहा, “हमारी पार्टी के उम्मीदवार बनने के लिए व्यक्ति को ध्यानसाधना करनी आनी चाहिए और व्यक्ति को शाकाहारी होना चाहिए. शाकाहारी व्यक्ति निरोग होता है. ध्यान से कोई बीमारी नहीं होती और व्यक्ति रास्ट्रीय की सेवा कर सकता है.”

शिवसेना और भाजपा में बन गई बात, मिलकर साथ लड़ेंगे लोकसभा और विधानसभा चुनाव

पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सौरभ बंसल ने आंध्र एसोसिएशन में आगामी लोकसभा और विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी का घोषणापत्र जारी किया.

ब्रह्मर्षि ने कहा, “हम राष्ट्रीय स्तर पर अपनी मौजूदगी दर्ज कराना चाहते हैं. हमने आंध्र प्रदेश से अपना सफर शुरू किया था. अब हम लोकसभा चुनाव से उत्तर भारत में अपना अभियान शुरू करने जा रहे है.”

उन्होंने कहा हमारी पार्टी की सदस्यता की फीस 10 रुपये है और उम्मीदवारों का चयन एक स्क्रीनिग कमेटी करेगी, इसमें उम्मीदवार का शाकाहारी होना एक प्रमुख शर्त है.

सौरभ बंसल ने चुनावी घोषणापत्र के बारे में बताते हुए कहा, “हमारी पार्टी का लक्ष्य सभी नागरिकों को बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करना है. जनवितरण प्रणाली में सुधार किया जाएगा, जिससे लोगों को आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति बिना किसी रुकावट के हो. शिक्षा को सभी के लिए अनिवार्य बनाया जाएगा. यह शिक्षा ग्रेजुएशन तक बिल्कुल मुफ्त होगी.”

उन्होंने कहा, “पुरुष और महिलाओं को समान अधिकार दिए जाएंगे. मानवीय गतिविधियों के लिए किसी भी क्षेत्र में अवसरों के लिए व्यक्ति की योग्यता ही एकमात्र पैमाना होगी. ”

बंसल ने कहा, “पिरामिड पार्टी ऑफ इंडिया समग्र स्वास्थ्य, समग्र ऊर्जा, समग्र प्रौद्योगिकी और समग्र सेवाओं में अनुसंधान और विकास को प्रोत्साहित करेगी. पिरामिड पार्टी ऑफ इंडिया हर गांव को पेयजल, सिंचाई, सड़क और परिवहन सुविधा प्रदान करेगी. पेड़ काटने की मनाही होगी. इसे अपराध माना जाएगा और ग्रामीण क्षेत्रों में वनारोपण को बढ़ावा दिया जाएगा. किसी भी जानवर की हत्या करना कानून के खिलाफ होगा.”

लोकसभा चुनाव में पार्टी आंध्र, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और तेलंगाना के विभिन्न क्षेत्रों में उम्मीदवार उतारेगी.

आपकी राय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *