Education News

सीटेट के लिए अधिसूचना जारी, 20 भाषाओं में आयोजित होगी परीक्षा

नई दिल्लीः केंद्रीय अध्यापक पात्रता परीक्षा (सीटेट) इस वर्ष 20 भाषाओं में आयोजित की जानी है, इसकी संबंधित घोषणा मानव संसाधन एवं विकास मंत्री प्रकाश जावङेकर ने की है. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की और से 12 जून को जारी अधिसूचना के आधार पर यह परीक्षा 3 भाषाओं-हिंदी, अंग्रेजी और संस्कृत आयोजित होनी थी. हालांकि, सीबीएसई 16 सितंबर, 2018 को इस परीक्षा को आयोजित करने जा रहा है. सीटेट के जरिए उम्मीदवारों को कक्षा I-V के लिए प्राथमिक शिक्षक की नियुक्ति के लिए पात्रता प्रमाणपत्र और कक्षा VI-VIII के लिए उच्च प्राथमिक शिक्षक प्रमाण पत्र प्राप्त होता है।

जावङेकर के अनुसार अभी तक यह परीक्षा 20 भाषाओं में ही आयोजित होती थी, जिसमें असमिया, बांग्ला, गारो, गुजराती, कन्नङ, खासी, मलयालम, मणिपुरी, मराठी, मिजो, नेपाली, उङिया, पंजाबी, संस्कृत, तमिल, तेलुगु, तिब्ब्ती, उर्दू, अंग्रेजी और हिंदी शामिल है.

अदालत द्वारा इस परीक्षा को चार महीने में आयोजित करने पर सीबीएसई ने इसमें से कुछ भाषाओं को हटा दिया था. मंत्री ने बताया कि अब मैने इस परीक्षा को सभी 20 भाषाओं में आयोजित करने का आदेश दिया है. केंद्र सरकार के स्कूलों (केवीएस व एनवीएस) और केंद्रशासित क्षेत्रों चंडीगढ़, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, लक्षद्वीप, दमन और दीव, दादर नागर हवेली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली के प्रशासनिक नियंत्रण क्षेत्र के अधीन विद्यालयों में शिक्षक बनने के लिए सीटेट परीक्षा सफल करना अनिवार्य है.

इसके लिए छात्रों को सीटेट की वेबसाइट पर ऑनलाइन पंजीकरण करवाना होगा, जिसकी प्रक्रिया 22 जून से शुरू होगी. यह परीक्षा उत्तीर्ण उम्मीदवारों को टीजीटी और पीजीटी जैसे विभिन्न शिक्षण परीक्षाओं में उपस्थित होने के लिए योग्य बनाती है। सीटेट परीक्षा के लिए उम्मीदवार को निम्नलिखित  आवेदन शुल्क का भुगतान करना पड़ेगा। जिसके अंतर्गत सामान्य / ओबीसी को 1000/- रुपये (दोनों I और II पेपर के लिए) और 600/- रुपये एक पेपर के लिए देना पड़ेगा। वहीं, एससी / एसटी / पीएच वर्ग को  500/- ((दोनों I और II पेपर के लिए) और रु 300/- सिर्फ एक पेपर में शामिल होने के लिए देने होंगे।

आपकी राय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *