Delhi Top News News

दिल्ली मेट्रो ने बदले 10 स्टेशन के नाम

नई दिल्ली: दिल्ली मेट्रो की पिंक लाइन पर साउथ कैंपस और मोती बाग स्टेशनों के नाम में बदले गए हैं. इनके नाम अब दुर्गाबाई देशमुख साउथ कैंपस और सर विश्वेश्वरैया मोती बाग हैं. मूल योजना में इन दो शख्सियतों के नाम नहीं जुड़े थे लेकिन एक पैनल की सिफारिश के बाद इन्हें बदला गया. पैनल ने आठ अन्य मेट्रो स्टेशनों के नाम बदलने का भी सुझाव दिया है.

दुर्गाबाई देशमुख साउथ कैम्पस स्टेशन को स्वतंत्रता सेनानी, सामाजिक कार्यकर्ता और शिक्षाविद के नाम पर रखा गया है और सर विश्वेशरैया मोती बाग स्टेशन का नाम महान इंजिनियर-विद्वान की विरासत को मजबूती देने के लिए रखा गया है.

ये दोनों ही उन 10 स्टेशनों में शामिल हैं जिनके नाम बदलने का सुझाव दिया गया. सूत्रों के मुताबिक, ‘अन्य स्टेशन वायलट लाइन में तुगलकाबाद , ओखला (बदलकर हरकेश नगर ओखला), बदरपुर (बदलकर बदरपुर बॉर्डर), मजेंटा लाइन में ओखला फेज-3 (ओखला NSIC) और ग्रीन लाइन में घेवरा (घेवरा मेट्रो स्टेशन) हैं.’

द्वारका – धानस बस स्टैंड के प्रस्तावित कॉरिडोर पर दो स्टेशनों का नाम बदला गया है. ये स्टेशन हैं म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन ( बदलकर नजफगढ़) और नजफगढ़ डिपो स्टेशन (बदलकर नांगली). सूत्रों ने बताया कि बदलाव को दिल्ली सरकार ने मंजूरी दे दी है.

देशमुख ने श्री वेंकटेश्वरा कॉलेज की स्थापना में मुख्य भूमिका निभाई थी, जो कि डीयू के साउथ कैम्पस का हिस्सा है. स्टेशन कॉलेज के नजदीक मौजूद है. पिंक लाइन कॉरिडोर को खोलने से पहले ही नाम बदला गया है. दोनों स्टेशन डीएमआरसी नेटवर्क में पहले हैं जिनका नाम महान शख्सियत पर रखा गया है.

हालांकि, डीएमआरसी ने कुछ स्टेशनों के नाम को-ब्रांडिंग पॉलिसी के कारण बदले हैं. इस नीति के अंदर 41 स्टेशनों को रखा गया है और कइयों को को-ब्रांड किया गया है जबकि शेष पर काम होना बाकी है.

मजेंटा लाइन की कालकाजी मंदिर-जनकपुरी वेस्ट कॉरिडोर के तीन स्टेशन सोमवार को शुरू किए जाएंगे, जिनमें आईआईटी, ग्रेटर कैलाश और टर्मिनल 1-आईजीआई एयरपोर्ट शामिल है.

आपकी राय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *