Delhi Top News News

दिल्ली में शुरू हुआ आम आदमी पार्टी का चिपको आंदोलन

नई दिल्ली: दिल्ली में 16 हजार पेड़ काटने के विरोध में आम आदमी पार्टी ने चिपको आंदोलन चलाया. सरकार के इस फैसले के खिलाफ रविवार को स्थानीय लोगों और पर्यावरणविदों ने विरोध प्रदर्शन किया. लोगों ने पेड़ से चिपक कर पेड़ों को बचाने की मुहिम चलाई. बता दें कि 1970 में पहली बार चिपको आंदोलन उत्तराखण्ड में चलाया गया था. इस दौरान पेड़ों को काटने से बचाने के लिए लोग पेड़ से चिपक जाते थे.

दिल्ली में चिपको आंदोलन के दौरान प्रदर्शनकारियों ने “पेड़ बचाओ, दिल्ली बचाओ”, “हम साफ हवा चाहते हैं” और “पेड़ों को बचाओ, वो आपको बचाएंगे” जैसी तख्तियों के साथ नजर आए. प्रदर्शन में शामिल होने वाले लोगों का कहना है कि पेड़ों को काटने नहीं देंगे. लोगों का कहना था कि दिल्ली की हवा पहले से खराब है ऐसे में पेड़ काटने से हवा और भी हवा प्रदूषित होगी.

NBCC के एमडी अनूप कुमार मित्तल के अनुसार “दक्षिणी दिल्ली की 7 में से 3 कॉलोनियों को डेवलप करने की जिम्मेदारी एनबीसीसी को मिली थी. इनमें नौरोजी नगर, सरोजिनी नगर और नेताजी नगर शामिल हैं. इस प्रोजेक्ट के दौरान हमें नौरोजी नगर में 1400 पेड़ और नेताजी नगर में 2200 पेड़ काटने की इजाजत मिली थी. सरोजिनी नगर पर अभी कुछ भी तय नहीं हुआ था. कुल मिलाकर हमें सिर्फ 3600 पेड़ काटने की इजाजत थी. ये बात बिल्कुल गलत है कि इस दौरान 16000 पेड़ काटे जाएंगे. यहां पर रिप्लाटिंग और उनका रिप्लेसमेंट सीपीडब्ल्युडी द्वारा चलाया जा रहा है.”

आपकी राय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *