Delhi Top News News

दिल्ली में बंद हो सकती है दूध, फल और सब्जियों की सप्लाई, ये है कारण…

नई दिल्ली : देशभर के 22 राज्यों के किसान शुक्रवार(1 जून) से अपनी मांगों के लिए हड़ताल करने वाले हैं. किसानों की इस हड़ताल के कारण दिल्ली समेत देश के तमाम शहरों को दूध, सब्जियों और फलों के लिए या तो ज्यादा दाम चुकाने पड़ सकते हैं या फिर हो सकता है कि ये सामान बाजारों में कुछ दिनों के लिए दिखाई ही ना दें. आंदोलन का आह्वान करने से पहले ही किसान इस बात का ऐलान कर चुके हैं कि 1 जून से 10 जून तक चलने वाले इस आंदोलन के दौरान वह ग्रामीण क्षेत्रों से दूध, फल सब्जियां व अन्य सामान शहरी क्षेत्रों में नहीं आने देंगे.

क्या है किसानों की मांग

– देश के किसानों का सारा ऋण एक साथ माफ किया जाए.
– सभी फसलों पर लागत के आधार पर डेढ़ गुना लाभकारी मूल्य को बढ़ाया जाए.
– छोटे किसान या फिर किसी अन्य की भूमि पर खेती करने वाले किसानों की आय मासिक तौर पर निर्धारित होनी चाहिए.
इस आंदोलन के लिए किसानों ने पूरा एक प्रोसेस तैयार किया है, जिसके तहत 1 जून से पहले किसान ग्रामीण क्षेत्रों से शहरों की ओर खाने वाली खाद्य सामग्री की आवाजाही पर प्रतिबंध लगाएंगे. इसके बाद 6 जून को किसान संगठन मंदसौर गोलीकांड में मरने वाले लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे. बता दें कि पिछले साल जब किसानों ने देशव्यापी हड़ताल का आह्वान किया था, उस वक्त पुलिस ने हड़ताल खत्म कराने के लिए लाठीचार्ज और फायरिंग की थी. इस फायरिंग में 6 किसानों की मौत हो गई थी. 6 जून को उन्हीं किसानों की बरसी है. 10 जून यानि की आंदोलन के आखिरी दिन किसान पूरे भारत में बंद का आह्वान करेंगे.
आपकी राय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *