Delhi Top News Education

आइआइटी दिल्लीः ‘प्रोजेक्ट तितली’ की शुरुआत से महिलाओं को किया जागरुक

नई दिल्लीः भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) दिल्ली ने महिलाओं से सम्बंधित समस्याओं के प्रति लोगों में जागरुकता फैलाने के लिए नए अभियान की शुरुआत की है. इसके अंतर्गत आइआइटी छात्र कुछ खेलों के ज़रिए महिलाओं के मासिक धर्म संबंधी मिथकों और वर्जनाओं के बारे में मनोरंजक और आकर्षक तरीके से जनजागृति पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं. इस अभियान को ‘प्रोजेक्ट तितली’ के नाम से जाना जाएगा. खेलों में पहेली, रूलेट और मासिक धर्म संबंधी मूल चीज़ों पर ध्यान देने वाले खेल शामिल हैं. इनमें सैनेटरी नैपकीन की जानकारी और उससे निपटारे के बारे में बताया जाएगा.

आइआइटी प्रोडक्शन और इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही रितिका के अनुसार ‘छात्रों ने मौखिक जागरुकता की जगह तीन खेलों को तरीका बनाने का निर्णय किया है. जिससे महिलाओं में मासिक धर्म संबंधित जागरुकता की कमी को दूर किया जा सके.’

बायोटेक्नोलॉजी की छात्रा इशिता गुप्ता का कहना है कि मौखिक सत्र और फिर इन खेलों को खेलने के बाद इनका असर जानने के लिए सर्वे किया गया, जिसमें पता चला कि, मौखिक सत्र की तुलना में खेल सत्र से लोगों को ज्यादा सीखने को मिला. आइआइटी छात्रा के अनुसार महिलाओं को उनके सामने खेल खिलाया जाता है जिससे वह यदि गलती करें तो उन्हें उसी समय समझाया जा सके.

सिविल इंजीनियरिंग की 19 वर्षीय छात्रा ने बताया कि यह परियोजना केवल स्कूली लङकियों के लिए नहीं है, बल्कि महिलाओं के लिए भी है ताकि इसका पूरा फायदा सुनिश्चित किया जा सके. इस परियोजना की पहल प्रोजेक्ट तितली के नाम से की गई है जिसके तहत अब तक 1500 से अधिक महिलाओं को जागरुक किया जा चुका है.

अवश्य पढ़ेंः कई सुविधाओं से लैस हुए नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के ऑटो रिक्शा

आपकी राय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *