Delhi Top News News Politics

2019 से पहले रेल यात्रियों को ये खास तोहफा देंगे पीएम, आज होगा उद्घाटन

नई दिल्ली : भारत में बनी ट्रेन 18 को आधिकारिक तौर पर देश की सबसे तेज ट्रेन घोषित कर दिया गया है. इस ट्रेन की स्पीड 180 किलोमीटर प्रति घंटा है औऱ रेलवे सेफ्टी के चीफ कमीश्नर ने इस ट्रेन को 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलाने की मंजूरी दे दी है.

रेलमंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट करके इसे भारत की सबसे तेज ट्रेन घोषित किया है. वहीं इसके लिए ट्रैक के दोनों तरफ फेसिंग की शर्त भी रखी गई है. बता दें कि सबसे पहले नवंबर में बरेली मुरादाबाद सेक्शन के स्टैंडर्ड ट्रैक पर इसका ट्रायल हुआ था.

इसके बाद 2 दिसंबर को पीयूष गोयल ने ट्वीट करके लिखा था कि जोर स्पीड का झटका धीरे से लगा. ट्रेन 18 ने पार की 180 किमी प्रति घंटे की स्पीड. इस गाति पर पानी की बोतल की स्थिरता चेक की गई. इस ट्रेन को चेन्नई की इंटरनल कोच फैक्टरी में बनाया गया है. इसको बनाने में 100 करोड़ रुपये का खर्च आया है.

अगर ट्रेन की खासियतों के बारे में बात की जाए तो ट्रेन में 16 कोच हैं. यह पूरी तरह से एसी ट्रेन है जिसमें लगभग 1128 यात्री बैठ सकते हैं. इसमें डिफ्यूज लाइटिंग और ऑटोमेटिक दरवाजे और फुटस्टेप हैं जो ट्रेन के रुकने पर खुद ही खुल जाएंगे. ट्रेन में 52 सीट का एग्जीक्यूटिव कंपार्टमेंट है. यात्रियों की सुविधा के लिए इसमें वाईफाई के अलावा जीपीएस आधारित पेसेंजर इनफॉर्मेशन सिस्टम भी है. इसके अलावा बायो वैक्यूम टॉयलेट, मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट, एलईडी लाइटिंग और मौसम के मुताबिक तापमान बदलने की सुविधा है.

आपको बता दें कि 29 दिसंबर को पीएम मोदी 16 डब्बों की इस ट्रेन को वाराणसी से हरी झंडी दिखाएंगे. यह ट्रेन वाराणसी से दोपहर ढाई बजे चलकर उसी दिन रात साढ़े दस बजे दिल्ली पहुंचेगी जबकि दिल्ली से सुबह 6 बजे चलकर दोपहर 2 बजे वाराणसी पहुंचेगी.

आपकी राय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *