Entertainment

सलमान, शाहरुख नहीं इनको देखकर धड़का था धक-धक गर्ल का दिल

बॉलीवुड की धक-धक गर्ल को कौन नहीं जानता है. 90 के दशक में माधुरी दीक्षित ने हर किसी के दिल पर राज कर कई ऐसी बड़ी फिल्मों में काम किया था. आपको बता दें आज माधुरी दीक्षित का जन्मदिन है. वो 51 साल की हो गई हैं. उस दशक की एक्ट्रेस मे नंबर एक पर थी माधुरी, आइए जानते हैं कुछ खास बातें उनके बारे में….माधुरी दीक्षित का जन्म 15 मई 1967 में मुंबई के मराठी परिवार में हुआ. पिता शंकर दीक्षित और मां स्नेह लता दीक्षित की लाडली बेटी माधुरी बचपन से ही पढ़ाई में तेज थी. माधुरी की इच्छा थी कि वो एक डाक्टर बनें. डिवाइन चाइल्ड से हाई स्कूल कर माधुरी ने मुंबई यूनिवर्सिटी से स्नातक की पूरी शिक्षा ली. माधुरी दीक्षित ने माइक्रोबायोलॉजी की भी डिग्री ली. माधुरी बचपन से ही पढ़ाई के साथ नृत्य भी किया करती थी.

अपनी इस रुचि को बनाये रखने के लिए आठ वर्ष का प्रशिक्षण भी लिया. किसे पता था माधुरी कई करोड़ो लोगों के दिलों पर राज करेगी.माधुरी दीक्षित की करियर की बात करें तो उनकी पहली फिल्म 1984 में राजश्री प्रोडक्शन अबोध से की थी. इस फिल्म में जहां माधुरी ने अभिनय का परिचय दिया उसके बाद से माधुरी की एक के बाद एक फिल्में आने लगी. 1988 में आयी फिल्म तेजाब से फिल्म की दुनिया में धमाल ही मचा दिया इस फिल्म का गाना एक दो तीन ऐसा चला कि आज भी लोगों के जुबां पर है. एक खास बात- माधुरी के सबसे बड़े फैन मे दुनिया के मशहूर पेंटर एमएफ हुसैन का नाम सबसे पहले आता है हुसैन ने 1994 में आयी फिल्म हम आपके है कौन को 67 बार देखी थी. 1988 में आयी फिल्म दयावान के एक किस सीन को लेकर माधुरी चर्चा में रही.

इस सीन की वजह से उनकी खूब आलोचना हुई माधुरी ने एक इटरव्यू में कहा था कि उन्हें यह सीन नहीं करना चाहिए था.कुछ समय बाद जब राम लखन और साजन आयी इस फिल्म के बाद माधुरी का नाम अनिल और सजंय के साथ भी लिया गया. एक समय था जब माधुरी का नाम संजय दत्त के साथ खूब लिया जाता और उनके प्यार के किस्से चर्चा में थे लेकिन 1993 में जब संजय दत्त का नाम बम ब्लास्ट में आया तो माधुरी ने संजय से नजदीकियां बना ली. बॉलीवुड की धड़कन कही जाने वाली माधुरी दीक्षित के जलवे पाकिस्तान में भी फैले थे.

कहा जाता है जब सरहद पर जंग छिड़ी तो पाकिस्तानियों ने कहा था, हम कश्मीर की तरफ मुड़कर नहीं देखेगें अगर तुम हमें माधुरी दे दो. फिल्म बेटा किसे नहीं याद है इस फिल्म के लिए पहले श्रीदेवी का चयन हुआ उसके बाद यह फिल्म माधुरी के झोली में जा गिरी. इसके फिल्म के बाद माधुरी सबके दिलों की धक-धक गर्ल बन गई.संजय लीला भंसाली फिल्म देवदास का गाना काहे छेड़ मोहे…को बिरजू महराज ने कोरियोग्राफ किया था. बता दें इस गाने में माधुरी ने करीब 15 से 20 लाख का भारी भरकम लंहगा पहना हुआ था और इसे पहन डांस करना और भी मुश्किल था. फिर भी माधुरी ने इसे बाखूबी निभाया. माधुरी की फिल्मों की बात करें तो उन्होंने कई बेहतरीन फिल्में दी आमिर खान के साथ दिल, सलमान के साथ हम आपके है कौन,शाहरूख खान के साथ दिल तो पागल है, जैसी बड़ी फिल्मों आज भी लोगों के दिलों के करीब है.माधुरी को कई उच्च पुरस्कारों से सम्मानित भी किया गया

1993 में आयी फिल्म बेटा के लिए माधुरी को सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार दिया गया. उसके बाद 1994 में आयी फिल्म हम आपके है कौन के लिए फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार दिया गया. 1998 में दिल तो पागल के लिए और 2003 में आयी देवदास के लिए फिल्मफेयर सहायक अभिनेत्री का पुरस्कार भी दिया गया. माधुरी ने 2008 में भारत सरकार द्वारा चतुर्थ सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्मश्री से सम्मानित किया गया.

फिल्मों से ब्रेक लेने के बाद 17 अक्टूबर 1999 में माधुरी ने श्रीराम माधव नेने से विवाह कर लिया. जो लॉस ऐजेल्स, कैलिफ़ोर्निया में एक चिकित्सक के रूप में है और उनके दो जुड़वा बच्चे भी है.

 

आपकी राय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *