Delhi Top News News

दिल्ली की वो बदनाम गलियां… यहां गलती से भी मत जाना, क्योंकि…

आपने दुनिया में वेश्याबाजार और रेड लाइट एरिया के बारे में तो सुना ही होगा. इन जगहों पर महिलाओं के जिस्म की बोली लगाई जाती है. यानी पैसों में तन का सुख प्राप्त किया जाता है. कई देशों में इसको सरकार द्वारा मान्यता दी गई है लेकिन भारत में इस तरह का कोई नियम नहीं बना है. यहां पर चोरी-चुपके इस तरह के व्यापार चलते हैं. आज हम आपको देश की राजधानी में रात को लगने वाले उस बाजार के बारे में बता रहे हैं, जहां पर पुरुषों की बोली लगाई जाती है.

आपने कभी ऐसे इलाके के बारे में सुना है, जहां पुरुषों के तन की बोली लगाई जाती है और बोली लगाने वाली महिलाएं अच्छे और बड़े घरों की होती हैं. इस बात पर यकीन करना आपके लिए थोड़ा मुश्किल होगा लेकिन यह बात बिल्कुल सच है. दूसरे देशों के बाद भारत में भी ये व्यापार बहुत तेजी से बढ़ता जा रहा है. दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरु जैसे बड़े-बड़े शहरों में रात को इस तरह के बाजार सजते हैं जहां पुरुषों के शरीर का सौदा होता है. इस बाजार को ‘जिगोलो मार्केट’ कहा जाता है. शहरों के पॉश इलाकों में रात को मर्दों के जिस्म के बाजार सजते हैं.

खबरों की मानेंं तो अच्छे घरों की महिलाएं यहां आकर मर्दों की बोली लगाती हैं. दिल्ली के सरोजनी नगर, लाजपत नगर, पालिका बाजार, और कमला नगर मार्केट जैसे कई इलाकों में रात को मर्दों के जिस्म के बाजार लगते हैं. जिगोलो को बुक करने का काम क्लब, पब, डिस्को और कॉफी हाउस द्वारा भी किया जाता है और यहां महिलाएं अपनी पसंद के पुरुष के साथ एक रात बिताने के लिए बड़ी रकम खर्च करती हैं. आपको बता दें कि सिर्फ कुछ घंटों की बुकिंग के लिए ये पुरुष 2000-4000 और पूरी रात के लिए 8000-10000 तक चार्ज करते हैं.

देश की राजधानी में जब लोग सो रहे होते हैं तब ये बाजार सजता है और मर्दों की बोली लगती है. और ये बाजार रात को 11 बजे से 3 बजे तक लगता है. इस तरह के काम काफी प्लानिंग के साथ किए जाते हैं और कमाई का 20-25 प्रतिशत हिस्सा डीलर को दिया जाता है. कहा जाता है कि इंजीनियरिंग और मेडिकल की तैयारी करने वाले लोग इनमें ज्यादा शामिल हैं. जिगोलो की पहचान खास ड्रेस से होती है. वह काली पैंट और सफेद शर्ट पहनते हैं.

आपकी राय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *