Delhi Top News Politics

अटल बिहारी वाजपेयी के परिवार ने PMO को लिखा खत, कही ये बात

नई दिल्लीः भारत के पूर्व प्रधानमंत्री और दिवंगत बीजेपी नेता अटल बिहारी वाजपेयी की दत्तक पुत्री नमिता भट्टाचार्य ने पीएम कार्यालय को एक पत्र लिखा है जिसमें सरकार की तरफ से दी गई सुविधायों को वापस लेने की मांग को लिखते हुए कहा है कि उनका परिवार अपना खर्च उठाने में सक्षम है इसलिए उन्हें सरकारी सुविधायों की आनश्यकता नहीं है. इसी के साथ वह सरकारी खजाने पर भी भार नहीं डालना चाहती हैं. पत्र के जारिए पीएमओ को बताया है कि वह कृष्णा मेनन मार्ग को खाली करके निजी घर में शिफ्ट होना चाहती हैं.

आपको बता दें कि अटल बिहारी वाजपेयी का 16 अगस्त 2018 को दिल्ली के AIIMS में 93 वर्ष की उम्र में निधन हो गया था. वाजपेयी जी के निधन से पूरे देश में शोक की लहर थी और लोग हमेशा उनके भाषणों, कविताओं, विचारों आदि के जरिए याद करते रहेंगे.

पूर्व प्रधानमंत्रियों के परिवार को मिलती है ये सुविधा
सरकार पूर्व प्रधानमंत्रियों के परिवार को कई तरह की सुविधाएं देती है. जिसमें सुरक्षा भी शामिल है. इसके अलावा मुफ्त चिकित्सा, सरकारी स्टाफ, घरेलू विमान टिकटें और ट्रेन की मुफ्त यात्रा शामिल होता है.अटल बिहारी वाजपेयी के परिवार में दत्तक पुत्री नमिता, दामाद रंजन भट्टाचार्य और नाती निहारिका समेन अन्य सदस्य शामिल हैं. बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्रियों के परिवार के लोगों को आजीवन सुरक्षा का प्रावधान प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने ही किया था. इस निर्णय को अमल में लाने के लिए एसपीजी एक्ट में संशोधन भी किए गए थे.

आपकी राय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *